VIDEO: Minimal Meaning in Hindi | Minimalism Kya Hota Hai? Minimalist Kise Kehte Hain? Minimalism in India

Minimal Meaning in Hindi | Minimalism Kya Hota Hai? Minimalist Kise Kehte Hain? Minimalism in India: 

Minimal Meaning in Hindi | Minimalism Kya Hota Hai? Minimalist Kise Kehte Hain? Minimalism in India

आज हम एक बहुत ही अनजान टॉपिक के बारे में बात करने जा रहे हैं जो इन दिनों बहुत लोकप्रिय हो रहा है। हां, ये मिनिमलिज्म है। चले जाते हैं के वास्तविक में ये मिनिमलिज्म होता क्या है और मिनिमलिस्ट किन लोगो को कहते हैं? क्या वो लोग आखिर कांजू हॉट है?

तो पहले जाते हैं के Minimalism लाइफस्टाइल होता क्या है?

काम और जरूरी चीज को लेकर लाइफ में खुश रहना ही एक मिनिमलिस्ट की असली पहचान होती है। काम में ही बड़ी खुशी का मजा लेना ही मिनिमलिज्म है। लेकिन ये सिर्फ शारीरिक स्तर तक ही सिमित नहीं है। आपके दिमाग में वी जितना काम चीज होगा उतना अच्छा रहेगा। उतना अव्यवस्था मुक्त रहेगा। उतना ही बेहतर आप फील करेंगे। ये एक रास्ता है अपने जीवन को और भी बस और भी आसान करने का।

न्यूनतावाद आप कहीं पर वी लागू करते हैं। घर हो, आपका ऑफिस हो, बिजनेस हो फिर अपना दिमाग। जैसे में आपने वेबसाइट और यूट्यूब वीडियो को ज्यादा सिंपल और मिनिमलिस्ट रखता हूं और इसमे मुझे काम करने में आसान होता है और आप लोगों को समाज ने में।

अब जानते हैं मिनिमलिज्म के फायदे और नुस्सान

वाइज टू मिनिमलिस्ट होने में मुझे कोई खास नुक्सान दिखता नहीं लेकिन हां इसमे आपको फायदा ही फायदा है।

• एक मिनिमलिस्ट होने के लिए आपके पास जो कुछ भी है, काम करने पर आप ज्यादा महत्वपूर्ण चीजों पर ध्यान दे सकते हैं। इसे आपका फोकस बिल्ड होता है।

•”दृश्य शोर” को अतिसूक्ष्मवाद काम करता है। विजुअल नॉइस ये होता के आपकी आंखें एक बार में कितनी चीजों को एक साथ लेते हैं। अगर आपके घर में बहुत सारा सामान पड़ा हुआ है, तो आप नियमित रूप से बहुत ही अधिक दृश्य शोर से गुजर ते है। आगर समन घर में काम हो या फिर सिर्फ जरूरत की समान हो घर आपका क्लीन दिखेगा और दिमाग से साफ रहेगा। टू मिनिमलिज्म की सोच आपके घर को वी क्लॉटेड फ्री रखता है। घर हो, फोन हो, कंप्यूटर हो फिर एपीके दिमाग, जितना काम चीज रहेगा उतना ही अच्छा रहेगा।

• मिनिमलिज्म लाइफस्टाइल के बेनिफिट्स में से एक जिसे आप तुरंत नोटिस भी नहीं होता है। जरूरत की चीज ही रखे। जो जरूरत नहीं वो सिरफ आपको अस्थायी खुशी देता है हमशा केलिये नहीं। आगर घर पर काम बिजली के उपकरण हो तो वैसे ही बिजली के बिल वि काम ही आएंगे।

• और एक चीज आपके पास जितना कम सामान होगा, आपको उतनी ही कम सफाई और मेंटेनेंस की जरूरत होगी।

अब निष्कर्ष पर आते हैं।

मिनिमलिस्ट बनने केलिए या मिनिमलिस्ट अपने लाइफ में आप करने के लिए कोई खास दिन की जरूरत नहीं। आप आज से ही वास्तव में अभी शुरू कर सकते हैं। इंडिया में बोहोत सारे लोग मिनिमलिस्ट पहले से ही हॉट हैं लेकिन उनको ये टर्म नहीं पता होता है। जो लोग सिर्फ जरूरत की समान लेते हैं, काम चीज में खुश रहते हैं, जिन्को ज्यादा की जरूरत नहीं है, साधारण जीवन शैली जीते हैं उनको ही हम न्यूनतम कहेंगे।

मिनिमलिज्म एक मन की शांति और खुशी देता है जो कि हमको ज्यादा जरूरी है। काम में और सिंपल में असली मजा है।

About the Author: MAHAMMAD SAKIL ANSARI

Owner and Lead Editor of BEPINKU.COM. Learned Digital Marketing from Indian Institute of Technology, Kharagpur (IIT Kharagpur). He completed his bachelor's degree in English from the Vidyasagar University (VU) and currently pursuing a master’s degree in English from the Rabindra Bharati University (RBU). Apart from that, he is one of the best website designers in India and a music lover.

You May Also Like